2023 में भारत की पहली अंडरसीट सुरंग शुरू

मुंबई –  2023 में भारत की पहली अंडरसीट सुरंग शुरू करेगी जो मुंबई के तटीय सड़क परियोजना के हिस्से के रूप में बनाई जा रही है।

अंडरसीट सुरंग के कुछ मुख्य तथ्य

  • मुंबई तटीय सड़क परियोजना के तहत दो सुरंगें बनाई जाएंगी।
  • सुरंग की लंबाई 2.07 किमी होगी, जिसमें से 1 किलोमीटर का हिस्सा समुद्र के नीचे होगा।
  • यह भारत में पहली अंडरसीट रोड टनल है।
  • यह गिरगांव चौपाटी के पास अरब सागर से होकर गुजरेगा।
  • सुरंग प्रियदर्शनी पार्क से शुरू होगी और मरीन ड्राइव में नेताजी सुभाष रोड पर समाप्त होगी।
  • यह सीमेड के नीचे 20 मीटर की गहराई पर बनाया जाएगा।
  • परियोजना की कुल लागत 2,798.44 करोड़ रुपये है।
  • प्रत्येक सुरंग को 8 से 9 महीनों में पूरा किया जाएगा।
  • इसे भारत की सबसे बड़ी टनल बोरिंग मशीन द्वारा बनाया जा रहा है।

मुंबई तटीय सड़क परियोजना

भारत की पहली अंडरसीट सुरंग

Advertisment

  • यह एक 10.58 किलोमीटर लंबी सड़क परियोजना है जो मरीन ड्राइव से शुरू होती है और बांद्रा-वरदा सी लिंक के वर्ली-छोर पर समाप्त होती है।
  • इसमें जमीन से भरी सड़कें, पुल और सुरंगें शामिल हैं।
  • यह परियोजना दक्षिण मुंबई को उत्तरी मुंबई के साथ टोल-फ्री सड़क से जोड़ने की योजना के तहत शुरू की गई थी।
  • इससे शहर में ट्रैफिक चलाने में भी आसानी होगी।

चुनौतियों

सुरंग का निर्माण चुनौतीपूर्ण है क्योंकि यह समुद्र के नीचे बनाया जाएगा। प्रमुख चुनौतियों में शामिल हैं:

  1. सुरंग में समुद्र के पानी का प्रवाह।
  2. सुरंग से समुद्र का दबाव बढ़ेगा जिससे सुरंग के खोदने का डर रहेगा।

हालांकि, सुरंग का निर्माण तट के पास किया जा रहा है, इसलिए इसने निर्माण प्रक्रिया को आसान बना दिया है। इसके अलावा, सुरंग की स्थिरता सुनिश्चित करने के लिए सभी सुरक्षा उपाय किए जा रहे हैं।

Advertisment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisment