अब खुल ही जाएंगे बच्चों के स्कूल! पहली से पांचवीं तक के बच्चे भी जाएंगे पढ़ने

School Reopening Updates : क्या अब बच्चे स्कूल जा सकेंगे यानी अब स्कूल खुल जाएंगे…दरअसल ऐसा इसलिए कहा जा रहा है क्योंकि भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के महानिदेशक बलराम भार्गव ने कहा है कि भारत में स्कूलों (gujarat, haryana, bihar, jharkhand, up,chhatisgarh Government ) को फिर से खोलने की शुरूआत प्राथमिक विद्यालयों से करना समझदारी भरा कदम होगा. इस बीच छत्तीसगढ़ सरकार ने राज्य में कोरोना वायरस संक्रमण के कम होते मामलों को देखते हुए दो अगस्त से राज्य के स्कूलों और महाविद्यालयों को खोलने का फैसला किया है.

वहीं राजधानी दिल्ली के स्कूल कब से खुलेंगे…इसका लोग इंतजार कर रहे हैं. पिछले दिनों दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने राष्ट्रीय राजधानी में फिलहाल स्कूलों को खोलने की किसी योजना से इनकार किया. आईसीएमआर के महानिदेशक भार्गव की सलाह के बाद राजधानी के स्कूल भी खुल सकते हैं. भार्गव ने कहा है कि चूंकि बच्चों में कम संख्या में ‘ऐस रिसेप्टर’ होते हैं जिनमें वायरस चिपकते हैं, ऐसे में वे वयस्कों की तुलना में वायरस संक्रमण से कहीं बेहतर निपट सकते हैं. ‘ऐस रिसेप्टर’ ऐसे प्रोटीन होते हैं जो कोरोना वायरस के प्रवेश द्वार होते हैं. इनमें वायरस चिपक जाता है और कई सारी मानव कोशिकाओं को संक्रमित कर देता है.

Advertisment

आपको बता दें कि एम्स के निदेशक डॉ रणदीप गुलेरिया ने भी कहा है कि देश को एक बार स्कूलों को फिर से खोलने पर विचार करना चाहिए. उन्होंने इंडिया टुडे के साथ एक्सक्लूसिव बात की और कहा कि मैं समझता हूं अब समय आ गया है जबकि हमें स्कूलों को फिर से खोलने पर सहमत हो जाना चाहिए. इधर मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि आने वाले 25-26 जुलाई से 50 फीसदी क्षमता के साथ 11वीं और 12वीं की कक्षाएं शुरू हो सकती हैं. सीएम चौहान ने यह भी कहा है कि यदि सबकुछ ठीक रहा तो 15 अगस्त के बाद से नीचे की कक्षाओं को भी खोला जाएगा.

यूपी के स्कूल : आपको बता दें कि यूपी में 1 जुलाई से ही स्कूल खुल गये हैं. लेकिन फिलहाल स्कूलों में विद्यार्थियों के आने पर रोक है. स्कूल में फिलहाल सिर्फ शिक्षक और गैर शिक्षकों को आने की अनुमति दी गई है. बच्‍चों के लिए अभी जारी रहेगा ऑनलाइन क्‍लास.

बिहार में खुले स्कूल : बिहार में करीब तीन महीने के बाद एक बार फिर सीनियर वर्ग के बच्चों के लिये शहर के स्कूल पिछले दिनों से खोलने का काम सरकार ने किया है. वर्तमान में केवल 11वीं व 12वीं के बच्चे ही स्कूल जा पाएंगे.

Advertisment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisment